Saturday, June 27, 2009

फोटो फीचर : पढ़ी लिखी गाय देशाटन पर निकली

भले ही देश में 60 फीसदी साक्षरता ही हो, यह गाय तो पूर्ण साक्षर है, वह भी अंग्रेजी में। अब सोच रही है पढ़ाई की थकान मिटाने कहां जाऊं, जोधपुर ठीक रहेगा या जयसलमेर, या आगरा जाकर ताज महल देख आऊं या माऊंट आबू जाकर नक्की झील में जलविहार करूं, या पुष्कर में पुण्य कमाऊं या अजमेर की दरगाह में चादर चढ़ाऊं... जरा कन्फूस्ड लगती है। आप ही बताइए न इसे कि सैर-सपाटे के लिए कौन सा स्थान ठीक रहेगा।

6 Comments:

राज भाटिय़ा said...

अहमदाबाद

अजय सकलानी said...

बालसुब्रमण्यम जी तीर्थ यात्रा पर भेज दें, पढ़ लिख कर बिगड़ गयी है, चार धाम की यात्रा करके कुछ पुण्य तो कमाएगी|

ज्ञानदत्त पाण्डेय | Gyandutt Pandey said...

अंगेजी मीडियम से पढ़ी है!

गिरिजेश राव said...

इसमें लखनऊ क्यों नहीं है?

अन्ने, यदि यह फोटो आप ने खींची है तो आप में एक अच्छे प्रोफेशनल फोटोग्राफर होने के गुर मौज़ूद हैं। उन्हें तराशिए।

Udan Tashtari said...

अरे, यह तो ताऊ की गाय है. इन्दोर जाने की बस देख रही है. कितनी ज्ञानी है बिल्कुल ताऊ की तरह. सही जगह पहुँची. आप उसे टिकिट खरीद दो, बस!!

अभिषेक ओझा said...

हा हा ! क्या बात है.

हिन्दी ब्लॉग टिप्सः तीन कॉलम वाली टेम्पलेट